कोविड की तीसरी लहर से बचने के लिए टीकाकरण है जरूरी : डॉ एमके माथुर

अलीगढ़। जनपद में कोविड की तीसरी लहर के संक्रमण से बचने के लिए टीकाकरण जरूरी हो गया है। सरकार द्वारा निर्देश दिए गए हैं कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को अब वैक्सीनेशन करा लेना चाहिए क्योंकि तीसरी लहर से बचने के लिए टीकाकरण जरूरी है। जिले में शनिवार को 5271 लक्ष्य के सापेक्ष 28 केंद्रों पर 35 बूथों में कोरोना का 3636 लोगों को पहला टीका व 1991 लोगों को दूसरी डोज दी गई । इस दौरान कुल 5627 लोगों को टीका लगाकर प्रतिरक्षित किया गया।

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के सचिव डॉ. भरत वार्ष्णेय ने बताया कि तीसरी लहर से बचने के लिए जिले में तेजी से टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में तेजी के साथ टीकाकरण केंद्र पर लोगों को टीका लगाया जा रहा है । मोहल्ले के पार्षद एवं बुद्धिजीवी वर्ग के साथ लेकर ये काम और भी आसान किया जा सकता है और उन्हीं के सहयोग से मोहल्ले में लोगों से अपील की जाएं कि ज्यादा से ज्यादा टीकाकरण केंद्र पर जाकर कोविड का टीका लगवा लें।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आनंद उपाध्याय ने कहा कि देश भर में कोविड-19 महामारी की तीसरी लहर की आशंका जताई गई है और कहा गया कि नई लहर में बच्चों के ज्यादा प्रभावित होने की आशंका है। एक्सपर्ट्स कह रहे हैं कि पहली लहर में कोरोना वायरस ने बुजुर्गों पर अटैक किया जबकि दूसरी लहर में युवकों पर खतरा बढ़ा। ऐसे में तीसरी लहर में कोरोना बच्चों को अपना शिकार बनाएगा।

Advertisement

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी (डीआईओ) डॉ. एमके माथुर ने बताया कि कोरोना की संभावित तीसरी लहर को बढ़ने से पहले ही टीकाकरण के जरिए कोरोना के संक्रमण को रोकने की तैयारी की जा चुकी है। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत गाइड लाइन के निर्देश अनुसार जिले में अब स्तनपान कराने वाली भी गर्भवती महिलाओं को भी कोविड-19 का लगाया जा रहा है । टीकाकरण के मुताबिक गर्भवती महिलाओं और बच्चों को पौष्टिक आहार लेना भी बेहद जरूरी है।

उन्होंने कहा शहरी व ग्रामीण क्षेत्र के सीएचसी, पीएचसी व अर्बन पीएचसी पर काउंसलिंग के माध्यम से जिला अलीगढ़ में महिलाओं व बच्चों को कोरोना का टीका लगाने के लिए प्रतिरक्षित किया जा रहा है।

डीआईओ डॉ. माथुर ने बताया कि कोरोना संक्रमण पर धीरे-धीरे लगाम लगाने के लिए टीकाकरण अभियान में और अधिक तेजी लाने के लिए प्रयास किए जा चुके हैं। टीकाकरण के लिए शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में चलाए जा रहे टीकाकरण अभियान में जिले के सभी टीकाकरण केंद्रों पर कोविड की पहली डोज दी जा रही है और तीसरी लहर से सावधान रहने के लिए बच्चों को संक्रमण से बचाने के लिए टीकाकरण बहुत जरूरी है। इसके साथ ही बच्चों को संक्रमण से बचाने के लिए जिले में विटामिन ए की खुराक भी दी जा रही है।

Advertisement

मास्क व शालिक दूरी का पालन बनाए रखें:
उप जिला प्रतिरक्षण अधिकारी शरद गुप्ता ने कहा कि यदि आपने कोविड की वैक्सीन लगवा ली है, तब भी मास्क पहने शारीरिक दूरी व साफ सफाई और कोविड के प्रोटोकॉल का पालन करें । वैक्सीन कोरोना से लड़ने में आपको मदद करेगी, लेकिन उसका असर एक नियत अवधि के बाद होता है । ऐसे में संक्रमण के प्रति सतर्क रहना बेहद बहुत ज्यादा जरूरी होता है।और मास्क व सैनिटाइजर का उपयोग करते रहे इसके साथ ही शारीरिक व सामाजिक दूरी का पालन करते रहें।

Related Articles

Back to top button