उच्च न्यायालयों के लिए 10 न्यायाधीश एवं चार अतिरिक्त न्यायाधीश की हुई नियुक्ति

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने विभिन्न उच्च न्यायालयों में न्यायाधीशों के रिक्त पदों की भर्ती में तेजी लाते हुए बुधवार को तेलंगाना, उड़ीसा और केरल उच्च न्यायालयों के लिए कुल 14 और न्यायाधीशों एवं अतिरिक्त न्यायाधीशों की नियुक्ति की घोषणा की, जिनमें पांच महिला हैं। इनमें से 10 न्यायाधीश एवं चार अतिरिक्त न्यायाधीश हैं।

केंद्रीय विधि एवं न्याय मंत्रालय के न्याय विभाग की ओर से बुधवार को जारी अधिसूचना के अनुसार, राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने उच्चतम न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश एन वी रमन की सिफारिश पर इन नियुक्तियों की मंजूरी दी है। इनमें से तेलंगाना उच्च न्यायालय के लिए सात और उड़ीसा उच्च न्यायालय के लिए तीन न्यायाधीशों की नियुक्ति की गई है। केरल उच्च न्यायालय को चार अतिरिक्त न्यायाधीश मिले हैं।

अधिसूचना के अनुसार, न्यायिक अधिकारी श्रीमती पी श्री सुधा, डॉ़ श्रीमती सी सुमलता, डॉ़ जी राधा रानी, ​​​​एम लक्ष्मण, एन तुकारामजी, ए़ वेंकटेश्वर रेड्डी, आयकर अपीलीय न्यायाधिकरण (आईटीएटी) की सदस्य श्रीमती पी माधवी देवी को पदोन्नत कर तेलंगाना उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के पद पर नियुक्ति की गई है। वकील मृगंका शेखर साहू, न्यायिक अधिकारी राधा कृष्ण पटनायक और शशिकांत मिश्रा को उड़ीसा उच्च न्यायालय में न्यायाधीश नियुक्ति किया गया है।

न्यायिक अधिकारियों चंद्रशेखरन कर्ता जयचंद्रन, श्रीमती सोफी थॉमस, पुथेन वीडु गोपाल पिल्लई अजितकुमार और श्रीमती चंद्रशेखरन सुधा को पदोन्नत कर केरल उच्च न्यायालय का अतिरिक्त न्यायाधीश बनाया गया है। गौरतलब है कि पीछले दिनों सरकार ने विभिन्न उच्च न्यायालयों के न्यायाधीश पद कई नियुक्तियां की थी। मंगलवार विभिन्न उच्च न्यायालयों के लिए 20 न्यायाधीशों की नियुक्ति की थी।

Related Articles