Trending

पश्चिम बंगाल, असम, केरल, तमिलनाडु और पुदुचेरी का फाइनल Exit Poll, जानें- कहां किसकी बनेगी सरकार?

नई दिल्ली। देश में कोरोना महामारी के गंभीर संकट के बीच पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव संपन्न हो गए हैं. चुनावों के दौरान आखिरी दिन तक राजनीतिक दलों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी. पश्चिम बंगाल में जहां आठ चरणों में वोटिंग हुई तो वहीं असम में तीन चरणों में चुनाव हुए. तमिलनाडु, केरल और पुदुचेरी में एक चरण में 6 अप्रैल को वोटिंग हुई. लेकिन अब दो मई को कोरोना महारामी के बीच साल 2021 अपना सबसे बड़ा सियासी फैसला देने के लिए तैयार है. इससे पहले एबीपी न्यूज़ ने सी वोटर के साथ मिलकर एग्जिट पोल किया है. इससे आप अनुमान लगा पाएंगे कि किस राज्य में कौन सी पार्टी सत्ता पर काबिज हो सकती है.

राज्यवार आंकड़ें

पश्चिम बंगाल- 292

किसे कितनी सीट?
टीएमसी- 152 से 165
बीजेपी- 109 से 121 सीटें
कांग्रेस+लेफ्ट- 14 से 25 सीटें
अन्य- 0 से दो सीटें

वोट शेयर
टीएमसी- 42.1 फीसदी
बीजेपी- 39.9 फीसदी
कांग्रेस+लेफ्ट+आईएसएफ- 15.4 फीसदी
अन्य- 3.3 फीसदी

सर्वे के आंकड़ें इस बात की तरफ इशारा कर रहे हैं कि पश्चिम बंगाल में एक बार फिर ममता बनर्जी के नेतृत्व में टीएमसी की तीसरी बार सरकार बन सकती है. हालांकि, पिछले विधानसभा के मुकाबले उसे सीटों का नुकसान हो रहा है. बीजेपी को सत्ता पर काबिज होने के लिए अभी और इंतजार करना पड़ सकता है लेकिन उसकी सीटों में भारी उछाल देखने को मिल रहा है.

असम- 126
किसे कितनी सीट?
बीजेपी गठबंधन- 58-71
कांग्रेस गठबंधन- 53-66
अन्य- 0-5

वोट शेयर
बीजेपी+ 42.9 फीसदी
कांग्रेस+ 48.8 फीसदी
अन्य – 8.3 फीसदी

एग्जिट पोल के आंकड़ों के मुताबिक असम में एक बार फिर एनडीए की सरकार बन सकती है. राज्य में सरकार बनाने के लिए बहुमत का आंकड़ा 63 है. एनडीए को 58 से 71 सीटें मिल सकती हैं. वहीं कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूपीए को 53 से 66 सीटें मिलने का अनुमान है.

केरल- 140
किसे कितनी सीट ?
एलडीएफ- 71 से 77 सीटें
यूडीएफ- 62 से 68 सीटें
बीजेपी- 0 से दो सीटें
अन्य- 0 सीटें

वोट शेयर
एलडीएफ- 42.8%
यूडीएफ- 41.4%
बीजेपी- 13.7%
अन्य के खाते में- 2.1%

केरल में कुल 140 विधानसभा सीटें हैं और यहां बहुमत का आंकड़ा 71 सीटों का है. एग्जिट पोल के नतीजों से साफ है कि एक बार फिर लेफ्ट नीत एलडीएफ सत्ता में वापसी करता दिख सकता है.

पुदुचेरी- 30
किसे कितनी सीट ?
यूपीए (कांग्रेस-डीएमके)- 6 से 10
एनडीए (आईएनआरसी+बीजेपी+एआईएडीएमके)- 19 से 23
अन्य- 1 से 2

वोट शेयर
एनडीए (AINRC+बीजेपी+AIADMK)- 47.1%
यूपीए (कांग्रेस+DMK)- 34.2%
अन्य के खाते में- 18.7%

पुदुचेरी में एनडीए गठबंधन जीत दर्ज कर सकता है. यहां 30 सीटों के लिए एक ही चरण में 6 अप्रैल को वोट डाले गए थे. राज्य में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने के लिए कम से कम 17 सीटों की जरूरत है.

तमिलनाडु- 234
किसे कितनी सीट ?
यूपीए (डीएमके+कांग्रेस+अन्य)- 160 से 172
एनडीए (एआईएडीएमके+बीजेपी+अन्य)- 58 से 70
एएमएमके- 0 से 4
एमएनएम- 0 से 2
अन्य- 0 से चार

वोट शेयर
यूपीए- 46.7 फीसदी
एनडीए- 35 फीसदी
एमएनएम- 4.1 फीसदी
एएमएमके- 3.8 फीसदी
अन्य- 10.4 फीसदी

इस बार तमिलनाडु में कांग्रेस और एमके स्टालिन के गठबंधन वाली यूपीए की सरकार बनती दिख रही है. यूपीए को यहां पर 160 से 172 सीटें मिलने का अनुमान है. ये आंकड़ें बड़ी जीत की तरफ इशारा कर रहे हैं. वहीं दिवंगत जे जयललिता की पार्टी और बीजेपी के गठबंधन को 58 से 70 सीटें मिल सकती हैं.

Related Articles