Trending

इस वजह के चलते फिलिस्तीनी राष्ट्रपति अब्बास ने की चुनाव स्थगित करने की घोषणा

रामल्लाह। फिलिस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने शुक्रवार को घोषणा की कि देश में 22 मई को होने वाले विधायी चुनावों को अगली सूचना तक स्थगित कर दिया गया है। श्री अब्बास ने कहा, “हमने चुनाव को तब तक स्थगित करने का फैसला किया है जब तक कि पूर्वी येरुशलम के फ़िलिस्तीनी लोगों को वोट डालने की अनुमति नहीं दी जाती है।” राष्ट्रपति अब्बास ने वेस्ट बैंक शहर रामल्लाह में फिलिस्तीन लिबरेशन ऑर्गनाइजेशन (पीएलओ) के नेतृत्व की बैठक के बाद आम चुनाव को स्थगित करने के बारे में बताया।

उन्होंने कहा कि हम एक राष्ट्रीय एकता सरकार बनाने के लिए काम करेंगे, जो कि अंतरराष्ट्रीय प्रस्तावों का पालन करे। उन्होंने कहा कि हमने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय विशेषकर अमेरिका, संयुक्त राष्ट्र, यूरोपीय संघ, रूस और चीन से आग्रह किया कि वे पूर्वी येरुशलम में फिलिस्तीनियों को चुनाव में भाग लेने की अनुमति देने के लिए इजरायल पर दबाव डाले। ये प्रक्रिया 1993 के ओस्लो समझौते जैसे पीए और इजरायल के बीच पिछले समझौतों के अनुरूप कराए।

पीएलओ के नेतृत्व में गुरुवार की शाम को बैठक बुलाई गई थी। बैठक के दौरान श्री अब्बास ने पुन: पुष्टि की कि पूर्वी यरुशलम के बिना कोई चुनाव नहीं हो सकता। उन्होंने कहा कि इजरायल सरकार ने पूर्वी येरुशलम पर कब्जे वाले फिलिस्तीनी चुनावों को रोका है। उन्होंने इज़राइल के चुनाव कराने से इन्कार के बाद इस विषय में एक उचित निर्णय लेने के लिए बैठक बुलाई थी।

राष्ट्रपति ने जोर देकर कहा कि पूर्वी येरुशलम में फिलीस्तीनी लोगों को चुनाव में वोट देने का अधिकार है। गौरतलब है कि श्री अब्बास ने जनवरी में 2021 के आम चुनावों की घोषणा की जिसमें 22 मई को विधायी चुनाव, 31 जुलाई को राष्ट्रपति चुनाव और 31 अगस्त को फिलीस्तीन नेशनल काउंसिल के सर्वोच्च निर्णय लेने वाले निकाय चुनाव भी शामिल होंगे।

Related Articles